कोर्ट परिसर में हुई गैंगस्टर बबलू दुबे की दिनदहाड़े हत्या

कोर्ट परिसर में हुई गैंगस्टर बबलू दुबे की दिनदहाड़े हत्या
Image Source : Jagran.com

पश्चिम चंपारण। बिहार के पश्चिम चंपारण जिले में गुरुवार को बेत्तियाह के अदालत परिसर में खुंखार गैंगस्टर बबलू दुबे की हत्या कर दी गई।

दुबे जिसने पिछले साल नेपाल के उद्योगपति सुरेश केडिया का अपहरण कांड में मास्टरमाइंड था साथ ही पूर्व एवं पश्चिम चंपारण जिलों में 70 अन्य आपराधिक मामलों में आरोपी दुबे को बेटिया जेल से अदालत लाया गया जहाँ जवाहर सह, माजुल्लिया गांव के मुखीय की हत्या के मामले में सुनवाई थी।

पुलिस ने बताया कि दुबे को अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के अदालत में पेश होने के बाद जेल भेज दिया गया था, जब प्रतिद्वंदी गिरोह के दो लोगों ने दुबे को मौके पर 5 गोलियां मार्कर छलनी कर दिया और भीड़ का फायदा उठाकर भाग निकले। दुबे की स्तिथि गंभीर थी जब महारानी जानकी कुंवर अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल पहुंचते ही डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

सुचना के मुताबिक दुबे, जो बिहार के पूर्वी और पश्चिम चंपारण जिले एवं नेपाल के पारसा और बारा जिले में आतंक फैलाके रखा था। पुलिस ने जून 2013 में गिरफ्तार किया जब वह नेपाल जेल में मर्डर और बैंक डकैतियों में शामिल होने के लिए 10 साल की सजा काटकर निकला था और अवैध तरीके से भारत में प्रवेश करने की कोशिश कर रहा था।

एसपी जितेंद्र राणा (पूर्व चंपारण) ने बताया कि पूर्व चंपारण के कल्याणपुर पुलिस थाने क्षेत्र के सिसवान-खार गांव के रहने वाले दुबे को 11 अप्रैल को मोतीहारी की बेत्तियाह जेल में शिफ्ट करवाया गया जहाँ जवाहर शेख हत्या मामले का मुकदमा चल रहा था। राणा ने बताया कि दुबे पर 70 से ज्यादा हत्या, जबरन वसूली और लूट के मामले दर्ज है। केवल 45 मामले पूर्व चंपारण में ही दर्ज कराई गयी हैं।

इस घटना ने एक बार फिर कोर्ट के परिसर में सुरक्षा के बारे में सवाल उठाए हैं और बेत्तिह के वकीलों ने बेहतर सुरक्षा व्यवस्था के लिए चरणवार आंदोलन की घोषणा की है।