युवक का चाची से संबंध, चाचा ने दी भतीजे की सुपारी

युवक का चाची से संबंध, चाचा ने दी भतीजे की सुपारी
Image Source : Jagran

भागलपुर। बिहार सुल्तानगंज के कटहरा में एक विकलांग युवक दिव्यांग की हत्या का राज खुला। यह राज युवक के मोबाइल से खुल गया। खबरों क अनुसार पंकज दास की पहली पत्नी तूती दवी का अवैध संबंध दिव्यांग से था। दिव्यांग रिश्ते में पंकज दास का भतीजा था। भनक लगते ही चाचा ने भतीजे को रास्ते से हटाना की साजिश रचने लगा। इसलिए चाचा ने भतीजे की सुपारी देकर हत्या करा दी।

चाचा पंकज दास ने मेहेज 20 हजार रुपए देकर शंकर दास को सुपारी दी और इस घटना को अंजाम देने की साजिश रची। ड्राइवर शंकर ने चार अप्रैल की रात करीब 9.45pm दिव्यांग को फोन करके बुलाया और पत्थर से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। घटना के बाद युवक की मां ने 4 के खिलाफ केस दर्ज कराया था। केस दर्ज करने क बाद से ही पुलिस छानबीन में लग गयी।

छानबीन क दौरान दिव्यांग के मोबाइल नंबर को ट्रेस किया गया जिसके तेहत एएसपी जितेंद्र कुमार ने बताया कि घटना की रात ड्राइवर शंकर से कई बार दिव्यांग के मोबाइल नंबर पर बात करने का मामला सामने आया। शक के आधार पुलिस ने शंकर को गिरफ्त में लिया और कड़ी पूछताछ के बाद उसने पूरी साजिश का खुलासा कर दिया।

उन्होंने बताया कि "दिव्यांग को लड़की का शौक था। इसलिए उसे जाल में फ़साने के लिए 4 अप्रैल की रात शंकर ने दिव्यांग को लड़की मुहैया करने की लालच देकर बुलाया और साथ ले गया। 10 बजे तीन और लोग रात एक ही जगह एकत्रित हुए। फिर आरोपी शंकर ने कन्हैया और दीपक को लेकर आया। ड्राइवर शंकर दास ने ट्राइसाइकिल रुकवायी और पुल के नीचे ले गया। पहले दिव्यांग को शंकर दास और शैलेंद्र दास ने गला काटा। फिर बाकी आरोपियों ने पत्थर से चेहरे को कुचला और मार डाला।"

ठेले पर बरामद किया दिव्यांग का शव। पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।